Thursday, August 5, 2021

सेना अधिकारियों को भी लगवाना होगा फास्टैग? आईकार्ड पर नहींं मिलेगी छूट? यहां जानें हर सवालों के जवाब

देशभर में सभी गाड़ियों पर फास्टैग (FASTAG) लगाना आनिवर्य हो गया है। देश के किसी भी टोल प्लाजा से गुजरने पर इसकी जरूरत पड़ेगी। इसको लेकर लोगों के मन में कुछ सवाल हैं, आइए जानते हैं कि उन सवालों के उत्तर क्या है।

- Advertisement -

सवाल: फास्टैग है क्या और काम कैसे करता है?

उत्तर: यह टोल टैक्स लेने का इलेक्ट्रॉनिक माध्यम है जो एक स्टिकर के रूप में होता है। जब आप अपनी गाड़ी से टोल प्लाजा को पार करेंगे, तो फास्टैग रीडर आपके फास्टैग का बारकोड पढ़ लेगा और पैसे बैंक एकाउंट से कट जाएंगे।

सवाल: क्या निजी वाहनों को छूट मिलेगी?

जवाब: अगर आपकी गाड़ी का नंबर प्लेट सफेद रंग का है, तो आपको फास्टैग लगाना अनिवार्य है। निजी गाड़ी पर कोई छूट नहीं है। फास्टैग न होने पर आपको दोगुना टोल टैक्स देना होगा।

सवाल: दोपहिया वाहनों के लिए भी अनिवार्य है फास्टैग?

जवाब: नहीं, फास्टैग से दोपहिया वाहनों को दूर रखा गया है। एनएचएआई हाइवे पर दोपहिया गाड़ियों पर टोल टैक्स नहीं लगता है। इनके लिए हाईवे पर फ्री लेन अलग से होती है।

सवाल: क्या लोकल गाड़ियों को भी लगाना होगा फास्टैग?

जवाब:  टोल प्लाजा के आस-पास के गांव में रहने वालों को भी अपनी गाड़ियों पर फास्टैग लगाना होगा। इससे पहले ऐसी जगहों पर रहने वाले लोग आधारकार्ड दिखा कर टोल प्लाजा पार किया करते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।  नई गाइडलाइन में स्थानीय लोगों को कोई छूट नहीं दी गई है। नियमों को तोड़ने पर वाहन चालकों से दोगुना टैक्स वसुला जाएगा।

यह भी पढ़ें- सरकार कर रही क्रिप्टोकरेंसी के नियमों मे फेर-बदल, बिटकॉइन में निवेश करने पर हो सकती है जेल

सवाल: फास्टैग की कितना कीमत होगी?

जवाब: सरकार ने फास्टैग की कीमत 100 रुपए रखी है। इसके लिए 200 रुपए आपको सिक्योरिटी जमा करनी होती है। नए वाहनों में यह लगा होता है। इस आप बैंक या ऑनलाइन ले सकते हैं।

सवाल: क्या सरकारी गाड़ियों में भी लगेगा फास्टैग?

जवाब: हां, सरकारी गाड़ियों में भी फास्टैग लगाना अनिवार्य है। इसके लिए सरकार ने क्षेत्र के सांसद और विधायकों की दो गाड़ियों के लिए जीरो बैलेंस वाला फास्टैग NHAI की तरफ शुरु किया गया है। इसको बनवाने के लिए सरकारी विभागों को NHAI की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।

सवाल: फास्टैग का रिचार्ज कैसे होगा?

जवाब: फास्टैग का रिचार्ज वहीं से कराना होगा जहां से आपने से लिया है। यानी अगर आपने इसे SBI बैंक से लिया है, तो आपको वहीं से रिचार्ज करना होगा। यदि आप किसी दूसरे बैंक से फास्टैग का रिचार्ज करते हैं तो आपको 2.5 फीसदी लोडिंग चार्ज देना होना, मतलब 1000 रुपए के रुचार्ज पर 25 रुपए ज्यादा देने होंगे। आप आपने अकाउंट को गूगल पे या फोन पे पर लिंक करके भी फास्टैग का भुगतान कर सकते हैं।

सवाल: इसे बैंक अकाउंट से लिंक करने से क्या फायदा होगा?

जवाब: फास्टैग को बैंक अकाउंट से जोड़ने पर आपको बार-बार रिचार्ज करने के झंझट से मुक्ति मिल जाएगी। टोल प्लाजा पार करने पर पैसे अपने-आप आपके अकाउंट से कट जाएंगे।

सवाल: सेना या पुलिस के आई कार्ड पर छूट मिलेगी?

जवाब: अभी तक सेना या पुलिस के अधिकारी जब निजी वाहन से निकलते थे तो अपना आई कार्ड दिखाकर टोल प्लाजा पर भुगतान में छूट मिल जाती थी। NHAI की ओर से टोल कंपनी को भेजी गई नई गाइडलाइन में सेना के जवान ड्यूटी पर हो या सरकारी गाड़ी में सफर कर रहे हैं, तो उनसे टोल टैक्स नहीं लिया जाएगा, पर उन्हें अपने निजी वाहनों पर फास्टैग लगाना अनिवार्य है। NHAI ने यह गाइडलाइन फर्जी आई कार्ड के मिलने पर जारी की है।

सवाल: क्या होगा, अगर फास्टैग खो या खराब हो जाए?

जवाब: एक गाड़ी के लिए एक फास्टैग जारी होता है, जिसके लिए आपको रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, टैग आईडी समेत अन्य ब्योरा देना होता है। यदि आपका फास्टैग खराब या खो जाता है, तो आप वाहन का पूरा ब्यौरा देकर फिर से इसे जारी करा सकते हैं।

 

 

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles