Wednesday, August 4, 2021

दिसंबर तिमाही में GDP ग्रोथ 0.4%, क्या देश की अर्थव्यवस्था पटरी पर आने लगी?

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) ने शुक्रवार को GDP ग्रोथ रेट के आंकड़े जारी किए हैं. इन आंकड़ो के मुताबिक देश की GDP विकास दर अक्टूबर-दिसंबर 2020 तीमाही में 0.4% रही है. वहीं सरकारी आंकड़ों मे यह भी कहा गया है कि इस कारोबारी साल 2020-21 में देश की GDP में 8% की गिरावट रह सकती है.

टेक्निकल मंदी से आए बाहर

- Advertisement -

तीसरी तिमाही में विकास दर्ज होने से देश की टेक्निकल अर्थव्यस्था मंदी से बाहर आ गई है. इससे पहले GDP में दो बार गिरावट दर्ज की गई. कोरोना वायरस महामारी के कारण पहली तिमाही अप्रैल-जून में GDP ग्रोथ रेट -23.9% दर्ज की गई. इसके बाद दूसरे तिमाही जुलाई-अगस्त में GDP में 7.5% की गिरावट दर्ज की गई.

8 प्रतिशत की आई गिरावट

2011-12 के मुकाबले 2020-21 की तीसरी तिमाही में अनुमानित GDP 36.22 लाख करोड़ रहा है. एक साल पहले इसी अवधि में  यह 36.08 लाख रुपए था. 2020-21 के दौरान GDP में 8% की गिरावट आई है.  वहीं 2019-20 में इसी समय 4% की बढ़त पर थी.

बिजनेस गतिविधियों में दिखा सुधार

जारी किए गए आंकड़ों में इस बार जनवरी में बिजनेस में रिकवरी दिखी है. सेवा सेक्टर लगातार चौथे महीने बढ़ रहा है. जनवरी के महीने में इसमे तेजी रही है. रिजर्व बैंक ने अनुमान लगाया है कि वित्त वर्ष 2022 में देश की GDP ग्रोथ रेट 10.5% रहेगी. अतंराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने इसी वर्ष 11% की ग्रोथ रेट का अनुमान लगाया है.

यह भी पढ़ें- मुकेश अंबानी घर के पास कार में मिला विस्फोट, बम लगाने वाले ने कहा- ये तो बस झलक है

सरकार की कमाई कम और खर्चा ज्यादा

पिछले 10 महीनों मे जनवरी तक देश का फिस्कल डेफिसिट 12.34 लाख करोड़ रहा है. सरकार को टैक्स से 11.02 लाख करोड़ मिला है, जबकि खर्च 25.17 लाख करोड़ रहा है. इस साल के लिए सरकार ने फिस्कल डेफिसिट का अनुमान बदलकर GDP का 9% कर दिया था.

GDP क्या है?

GDP का फुल फॉर्म Gross domestic product ( सकल घरेलू उत्पाद) होता है. देश में पैदा होने वाले सामानों और सेवाओं की कुल वैल्यू को GDP कहते हैं. GDP से हम किसी देश की आर्थिक विकास दर को मापते हैं. अधिक GDP ग्रोथ का मतलब देश की आर्थिक रुप से बढ़ रहा है. अर्थव्यवस्था रोजगार पैदा कर रहा है. इससे यह भी पता चलता है कि किस सेक्टर में कितना विकास हो रहा है और कौन सा सेक्टर पिछड़ा है.

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles