Saturday, October 16, 2021

आज पश्चिम बंगाल में दूसरे चरण का मतदान, जानें कहां पर किसका दबदबा?

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में आज दूसरे चरण की वोटिंग होगी. दूसरे चरण की वोटिंग 30 सीटों पर होगी. इन सीटों पर 171 उम्मीदवार चुनाव के मैदान में उतरेंगे. जिनमें 19 महिला उम्मीदवार शामिल हैं. इस चरण के चुनाव में सबकी नज़र हॉट सीट नंदीग्राम पर है. इस सीट पर ममता बनर्जी और उनके कभी सहयोगी रहे शुभेंदु अधिकारी आमने-सामने हैं.

काफी दिलचस्प रहेगा आज का चुनाव
- Advertisement -

पश्चिम बंगाल में दूसरे चरण का मतदान काफी दिलचस्प रहने वाला है. सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी ने 20 सीटों पर अपने सभी उम्मीदरवारों को उतारा है. वहीं, कांग्रेस , वाम दल और इंडियन सेक्युलर फ्रंट का गठबंधन संयुक्त मोर्चा की छत्र छाया में चुनाव लड़ रहे हैं. कांग्रेस 9, CPIM 15, बहुजन समाज पार्टी 7, CPI 2 और all India forward block एक सीट पर चुनाव लड़ रहे है. दूसरे चरण की अधिकतर सीटें नक्सली प्रभावित हैं. नंदीग्राम की सीट के अलावा कई सीटें ऐसी हैं जहां कांटे की टक्कर देखने को मिलेगी.

2016 में किस दल को कितनी मिली थी सीट

तृणमूल कांग्रेस-21
बीजेपी-01
लेफ्ट-05
कांग्रेस-03

दूसरे चरण के मतदान की वीआईपी सीटें

नंदीग्राम यह सीट दूसरे चरण के चुनाव की सबसे हाई प्रोफाइल सीट है. इस सीट से ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी चुनाव लड़ रहे हैं. दोनों के बीच कांटे की टक्कर होने वाली है. क्योंकि पिछले साल चुनाव में शुभेंदु अधिकारी को इस सीट पर 67% वोट मिले थे. लेफ्ट को 27% और बीजेपी के खाते में महज 5% वोट आए थे.

हल्दिया- ईस्ट मेदिनीपुर के तामलुक लोकसभा के अंतर्गत यह सीट आती है. पिछली बार चुनाव में इस सीट पर सीपीएम की प्रत्याशी तापसी मंडन ने जीत दर्ज की थी. लेकिन अब वह बीजेपी में चली गई हैं. यहां से टीएमसी की स्वपन नस्कर उनके सामने खड़ी हैं.

तामलुक- साल 2016 में विधानसभा चुनाव में यहां से पूर्व भारतीय क्रिकेटर अशोक डिंडा ने चुनाव लड़ा था और जीत दर्ज की थी. इस बार सीपीएम से गौतम पांडा यहां से चुनाव लड़ेंगे. उनके मुकाबले टीएमसी से सौमेन महापात्रा और बीजेपी से हरे कृष्ण बेरा मैदान में उतरे हैं.

बांकुड़ा- इस सीट पर टीएमसी ने फिल्म अभिनेत्री सायंतिका बैनर्जी को उतारा है. यहां से बीजेपी के नीलाद्री शेखर दाना और कांग्रेस की राधा रानी बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं.

चुनावी मुद्दे

• सत्ताधारी टीएमसी और बीजेपी दोनों ने विकास को मुद्दा बनाया है.
• विपक्ष ने ममता सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार का मुद्दा बहुत ही मुखरता से उठाया है.
• वहीं, ममता बनर्जी ने बीजेपी के खिलाफ देश में महंगाई, पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर मुद्दा बनाया है.

यह भी पढ़ें- नंदीग्राम में घर लिया, फिर अपना गोत्र बताया..क्या शुभेंदु के सामने कमजोर पड़ रही हैं ममता बनर्जी?

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles