Saturday, October 16, 2021

डासना के पुजारी यति नरसिंहनंद सरस्वती ने अब्दुल कलाम को लेकर उगला ज़हर

उत्तर प्रदेश। सोशल मीडिया पर यति नरसिंहनंद सरस्वती नाम के एक शख्स का वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें वह भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति एवं वैज्ञानिक अब्दुल कलाम को जिहादी बता रहा है. इस वायरल वीडियो में उसने आरोप लगाए कि कलाम ने पाकिस्तान को एटम बम का फॉर्मूला दिया था.

- Advertisement -

उसने कहा कि सेक्युलर पार्टी कांग्रेस ने अफजल की दया याचिका नहीं भेजी. लेकिन कलाम ने सारे प्रोटोकॉल को तोड़ते हुए उसके परिवार से मुलाकात की. इसके अलावा उसने वीडियो में कहा कि जब कलाम DRDO के प्रमुख और देश के राष्ट्रपति थे तो उस समय बहुत से हिन्दू वैज्ञानिकों की मौत हुई थी.

इस वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा फूटा और नरसिंहनंद सरस्वती पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की. लोगों का कहना है कि कलाम का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

वायरल वीडियो

बता दें, यह वायरल वीडियो करीब एक महीने पुराना है. जिसे 24 फरवरी को पंजाब केसरी उत्तर प्रदेश के वेरीफाइड यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया है. यह वीडियो करीब 9 मिनट का है. जिसका एक मिनट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस मामले को लेकर पंजाब केसरी ने रिपोर्ट भी छापी है. जिसे आप यहां पर क्लिक कर पढ़ सकते हैं.

यह है ओरिजिनल वीडियो

यति नरसिंहनंद सरस्वती अपने भड़काऊ भाषण की वजह से लगातार विवादों में बने रहते हैं. हालिया में उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के डासना मंदिर का एक वीडियो सामने आया था जिसमें कथित तौर से मंदिर में जाकर पानी पीने के लिए मुस्लिम बच्चे की पिटाई की गई. इस मंदिर के गेट पर बोर्ड लगा था. जिसमें लिखा था कि यह मंदिर हिंदुओं का पवित्र स्थल है यहां पर मुस्लिमों का प्रवेश वर्जित है- आदेशानुसार यति नरसिंह सरस्वती.

इसके बाद नरसिंहनंद सरस्वती पर आईपीसी की धारा 504, 505 ,352 और 323 के तहत केस दर्ज किया गया. इससे पहले भी कई बार भड़काऊ बयान देने के मामले में यति नरसिंहनंद सरस्वती पर मामला दर्ज किया जा चुका है. हिंदू समाज पार्टी के कमलेश तिवारी की हत्या के बाद 21 अक्टूबर 2019 में भड़काऊ भाषण दिया था. जिसमें उसने देश को इस्लाम मुक्त , मुसलमान मुक्त बनाने की बात कही थी. जिसके बाद पुलिस ने एसआई रमेश चंद्र त्रिपाठी की शिकायत पर महमूदाबाद थाने में नरसिंह पर गंभीर धाराएं 295A ,298 और 504 के तहत मुकदमा दर्ज किया.

उस समय पुलिस ने बताया कि नरसिंह सरस्वती गाजियाबाद में रहता है और दक्षिणपंथी धार्मिक गतिविधियों में शामिल है. वहीं मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यति नरसिंह सरस्वती डासना मंदिर का महंत है और बीजेपी के पूर्व सांसद बीएल शर्मा को अपना गुरु मानता हैं.

यह भी पढ़ें- यूपी के चर्चित IPS अधिकारी को किया वक्त से पहले रिटायर, सरकार ने बताई ये वजह

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles