Saturday, October 16, 2021

नंदीग्राम में घर लिया, फिर अपना गोत्र बताया..क्या शुभेंदु के सामने कमजोर पड़ रही हैं ममता बनर्जी?

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में कल यानी एक अप्रैल को दूसरे चरण का चुनाव है. इस चुनाव की सबसे हॉट सीट नंदीग्राम है. इस सीट को लेकर सीएम ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी के बीच टक्कर होगी. शुभेंदु कभी ममता के खास हुआ करते थे लेकिन अब वह बीजेपी की तरफ से चुनाव लड़ रहे हैं.

- Advertisement -

नंदीग्राम में ममता बनर्जी ने वोटर्स को आकर्षित करने के लिए मंगलवार को अपना आखिरी चुनाव प्रचार किया. रैली के दौरान उन्होंने लोगों को अपना गोत्र बताया. इतना ही नहीं उन्होंने जनसभा से पहले चंडीपाठ सुनाया. लेकिन यह बड़ी आश्चर्य की बात है क्योंकि एक वक्त था जब ममता बनर्जी जय श्रीराम के नारे पर आग बबूला हो जाती थी. लेकिन इस समय उनकी रणनीती बदली हुई नजर आ रही है. वह हिंदू-हिंदू करने लगी हैं. चलिए ममता बनर्जी के चुनावी कैंपेन पर एक नजर डालते हैं…..

जनसभा में खुद का बताया गोत्र

नंदीग्राम में आखिरी चुनाव प्रचार के दौरान ममता बनर्जी ने अपना गोत्र बताया. उन्होंने कहा कि जब वह त्रिपुरा के त्रिपुरेश्वर मंदिर गई थीं तो वहां के पुरोहित ने उनसे पूछा कि मां, तुम्हारा गोत्र क्या है? इस ममता ने जवाब दिया कि उनका गोत्र मां, मांटी,मानुष है. लेकिन पुजारी ने कहा कि अपना निजी गोत्र बताइए. तो उन्होंने कहा, उनका पर्सनल गोत्र शांडिल्य है.

खुद को कहा ब्राहम्ण की बेटी

ममता बनर्जी के नंदीग्राम से चुनाव लड़ने के फैसले के बाद जब वह वहां पर पहले औपचारिक दौरे पर पहुंची तो उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं कृसे मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने न केवल चंडीपाठ सुनाया बल्कि खुद को ब्राहम्ण परिवार की बेटी भी बताया.

ममता बनर्जी ने हुंकार भरते हुए कहा, जो लोग हिंदू-मुस्लिम का कार्ड खेलते हैं उनको मैं साफ शब्दों में बताना चाहती हूं कि मैं भी हिंदू परिवार से आई लड़की हूं. तो मेरे साथ हिंदू कार्ड मत खेलो. उन्होंने कहा कि जब वह हर रोज घर से निकलने से पहले चंडीपाठ करती हैं. हिंदू घ्रम को लेकर उनके साथ कॉम्पिटिशन नहीं करनी चाहिए.

नामांकन से पहले मंदिर में की पूजा-अर्चना

10 मार्च को ममता बनर्जी ने नंदीग्राम सीट नामांकन दाखिल किया था. लेकिन इससे पहले वह शिवजी के मंदिर पूजा आर्चना करने गई थीं.वह मंदिर पैदल ही गई थीं. ममता बनर्जी ने अपने औपचारिक दौरे में दुर्गा मंदिर, काली मंदिर समेत कई धार्मिक स्थलों का दौरा किया था.

नंदीग्राम में किराए पर लिए घर

जिस दिन ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था तब से शुभेंदु अधिकारी ने बाहरी बोलना शुरू कर दिया था. इससे बचने के लिए ममता बनर्जी ने एक नहीं दो-दो मकान किराए पर लिए. उनका यह घर नंदीग्राम के रेयापाड़ा इलाके में हैं. किराए पर घर लेने के बाद उन्होंने ऐलान किया था कि जल्द वह इस घर को पक्का बनवाएंगी ताकि यहां पर उनका आना-जाना लगा रहे.

चुनाव के दौरान नंदीग्राम में रहेगी कड़ी सुरक्षा

दूसरे चरण के चुनाव में सबसे हाई प्रोफाइल सीट नंदीग्राम है. चुनाव के दौरान किसी भी अनहोनी से बचने के लिए इलेक्शन कमीशन ने क्षेत्र में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए हैं. यहां 350 वोटिंग बूथ हैं और इन सभी बूथों पर केंद्रीय सश्स्त्र बल की 20 कंपनियां तैनात होंगी.

इस चरण में राज्य की 30 सीटों के लिए वोटिंग होगी. कुल 10 हजार 620 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे. जहां केंद्रीय सशस्त्र बल की 650 कंपनियां तैनात की जाएंगी. दूसरे चरण में कुल 76 लाख वोटर्स वोट देंगे. बंगाल में विधानसभा चुनाव आठ चरणों में होगा. चुनाव के रिजल्ट 2 मई को घोषित होंगे.

यह भी पढ़ें- बंगाल चुनाव: ‘बाहरी’ के टैग से बचने के लिए सीएम ममता ने अपनाया ये तरीका

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles