Saturday, October 16, 2021

Budget Session: संसद में वित्त मंत्री ने राहुल गांधी को ‘हम दो हमारे दो’ वाले बयान पर घेरा, कहा- हमारे मित्र ‘दामाद’ नहीं है

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में बजट पर चर्चा के दौरान जवाब देते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी को आड़े हाथ लिया और उनपर विभिन्न मुद्दों पर बेफिजूल की बयानबाजी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, आशा थी कि राहुल गांधी तीन कानूनों में से कम से कम एक बिंदु निकालकर बताएंगे कि इसकी वजह से किसानों को नुकसान हो रहा है. मगर ऐसा नहीं हुआ।

- Advertisement -

कांग्रेस कह सकती थी कि हम दो हमारे दो में दमाद से बोलकर आए हैं कि जमीन वापस कर दो , लेकिन ऐसा भी नहीं किया गया। वित्त मंत्री ने बिना कांग्रेस का नाम लिए कहा कि हमारे मित्र ( क्रोनीज) दामाद नहीं है। ऐसे लोग उस पार्टी की आड़ में छिपे हैं जिसे जनता ने पूरी तरह से नकार दिया है। उन्होंने कहा- यह बजट गरीब किसानों का है।

दरअसल, राहुल गांधी ने गुरुवार को तीन कृषि कानूनों पर सरकार को घेरते हुए आरोप लगाया कि यह हम दो, हमारे दो की सरकार है। इस नारे के बहाने से उन्होंने बिना किसी का नाम लिए मोदी सरकार को कुछ उद्योगपतियों के लिए काम करने वाली सरकार का आरोप लगया था।

यह भी पढ़ें-VHP का दावा राम मंदिर के लिए चंदा जमा करने पर हुआ रिंकू का मर्डर, परिषद ने की हत्यारों को फांसी देने की मांग

राहुल गांधी पीएम को अपमान करते हैं – वित्त मंत्री

इसके अलावा वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि आप हमेशा पीएम मोदी का अपमान करते हैं। फिर चाहे तब के प्रधानमंत्री हो या फिर अब के प्रधानमंत्री। जब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह विदेश गए थे तो राहुल गांधी ने उनकी तरफ से लाए गए अध्यादेश को फाड़ दिया था।

यह भी पढ़ें- भारत जल्द घोषित हो हिन्दू राष्ट्र, जगतगुरु शंकराचार्य नरेंद्रानंद सरस्वती की मांग

मंडी बंद हुई है तो साबित करें

निर्मला सीतारमण ने कहा, कृषि कानून लागू होने के बाद से क्या देशभर में APMC बंद हुआ? मैं उनसे पूंछ रही हूं कि कही भी अगर APMC मंडी बंद हुई हो तो उसे साबित करें। हम APMC को बढ़ावा देने के लिए राज्यों को फंड दे रहे हैं।

सरकार के मित्र गरीब और आम जनता है

वित्त मंत्री ने केंद्र सरकार पर सांठगांठ वाली पूंजीवादी को बढ़ावा देने के आरोपों का जवाब देते हुए कहा गरीब लोग और देश की आम जनता सरकार के मित्र हैं और वही उन्हीं लोगों के लिए काम करती है। मोदी सरकार में प्रधानमंत्री स्वनीधि योजना के तहत गरीबों, रेहड़ी-पटरी वाले विक्रेताओं को 10,000 रुपए की आर्थिक मदद एक साल के लिए दी है जिसे चुका न पाने पर और समय लेने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि देश के 50 लाख रेहड़ी पटरी वाले ने इस योजना का लाभ उठाया है।

यह बजट गरीब और किसानों का है-

निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार पर हमेशा से आरोप लगते आए हैं कि वह मनरेगा के खिलाफ है। लेकिन पहले मनरेगा के पैसे ऐसे लोगों के पास जाते थे जो उसके लायक नहीं थे, अब ऐसा नहीं है। वित्त मंत्री ने कहा कि इस बजट में हमने मनरेगा के लिए 73 हजार करोड़ रुपए का प्रवाधान किया है। अगर आगे और जरूरत पड़ी तो इसे बढ़ा दिया जाएगा।

 

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles