Thursday, August 5, 2021

थलसेना प्रमुख ने कहा, चीनी सैनिकों के हटने से सिर्फ खतरा कम हुआ है टला नहीं

नई दिल्ली। इंडियन इकोनॉमिक कॉन्क्लेव में थलसेना के अध्यक्ष एम एम नरवणे ने गुरुवार 25 मार्च को कहा कि चीन के साथ समझौते के बाद पैंगोंग झील से चीनी सेना हट गई है लेकिन इससे भारत के लिए खतरा कम हुआ है, पूरी तरह से खत्म नही हुआ है. उन्होंने कहा कि यह कहना बिलकुल गलत होगा कि चीनी सेना ने उस स्थानों पर कब्जा किया है जो पिछले साल मई में गतिरोध शुरू होने से पहले भारत के कंट्रोल मे था.

- Advertisement -

उन्होंने पर्वतीय क्षेत्र की स्थिति बताते हुए कहा कि पीछे के इलाके में सेना उसी तरह तैनात है, जैसे वह सीमा पर तनाव के चरम पर पहुंचने पर थी. कॉन्क्लेव में उनसे सवाल पूछा गया कि क्या वे प्रधानमंत्री के उस बयान से सहमत हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि चीनी सेना भारत के नियंत्रण वाले इलाके में नहीं घुसी है, तो नरवणे जवाब में हां कहा.

उन्होंने आगे कहा कि उस क्षेत्र में गश्त शुरू नही हुई है, क्योंकि अब भी वहां पर तनाव की स्थिति बनी हुई है और टकराव हमेशा होता रहता है. अब भी कुछ ऐसे इलाके हैं जिनको लेकर हमें चर्चा करनी है. लेकिन मुझे लगता है कि विश्वास करने के लिए हमारे पास काफी मजबूत आधार है कि हम सफलतापूर्वक अपने उद्देश्यों को प्राप्त कर लेंगे. क्या अब भी चीन ने उन स्थानों में डेरा जमा कर रखा है जो अप्रैल 2020 से पहले हमारे पास थे, इस सवाल पर जोर देते हुए नरवणे से पूछ गया तो उन्होंने कहा कि यह बयान बिलकुल गलत है.

थलसेना प्रमुख ने कहा, वे क्षेत्र किसी के नियंत्रण में नहीं है. हम उन क्षेत्रों में हैं जहां पर हमारा नियंत्रण है और चीनी उन क्षेत्रों में है जहां पर वो नियंत्रण कर रहे थे. नरवणे ने कहा, LAC पर पूरा विवाद ग्रे एरिया को लेकर है. क्योंकि वहां कोई चिन्हित वास्तविक नियंत्रण रेखा है जिसे लेकर अलग अलग दावे और अवधारणाएं हैं. ऐसे में आप यह नहीं कहा सकते कि मैं कहां हूं और वो कहां हैं. उन्होंने कहा कि जब तक सैनिक पीछे के इलाकों से नही हटेंगे तब तक यह कहना सही नहीं है कि स्थितियां सामान्य हो गई हैं.

यह भी पढ़ें- झारखंड हाईकोर्ट में पड़ी याचिका, सड़क पर नमाज और लाउडस्पीकर से अजान पर लगे पाबंदी

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles