Wednesday, August 4, 2021

हजार साल पुराना चर्च बीजेपी को वोट देने की अपील कर रहा है, जानें क्या है इसकी वजह?

तिरुवंतपुरम। चुनाव का मौसम शुरू हो गया है. देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इनमें से एक राज्य केरल भी है. राज्य में 6 अप्रैल से मतदान शुरू होगा और 2 मई को नतीजे आ जाएंगे. इसी बीच बीजेपी को केरल के एक बड़े चर्च का समर्थन मिला है. वो भी एक नेता की वजह से.

- Advertisement -

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, केरल के मलनकारा ऑर्थोडॉक्स चर्च ने अपने अनुयायी से अपील की है कि चुनाव में वे बीजेपी के नेता आर बालाशंकर को वोट दें. दरअसल, केरल के आलप्पुझा जिले में एक चर्च है. यह चर्च तकरीबन एक हजार साल पुराना है. इसका नाम सेंट जॉर्ज ऑर्थोडॉक्स है.

चर्च को तोड़ने की नौबत आ गई थी

साल 2019 में इस चर्च को हटाकर हाईवे का निर्माण किया जा रहा था. 2020 में बीजेपी नेशनल ट्रेनिंग प्रोग्राम के को-कन्वीनर आर बालशंकर ने इस मामले में दखल दिया था और चर्च के पक्ष में खड़े हुए थे. इसका नतीजा यह निकला कि चर्च टूटने से बच गया. इस लिए ईसाई समुदाय आर बालाशंकर को बहुत मानता है.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर में ऑर्थोडॉक्स चर्च के फादर जॉन्स की बातों का भी जिक्र है. उन्होंने कहा, चर्च के हेड चाहते हैं कि सभी राजनीतिक बातों को साइड में करते हुए आर बालाशंकर के लिए मतदान करें. अगर बालाशंकर नहीं जीतते हैं. तो यह एहसान फरामोशी होगी. चर्च के मामले में प्रधानमंत्री तक ने हस्तक्षेप किया. जिसके बाद यह मामला पुरातत्व विभाग के पास पहुंचा और फिर चर्च को नहीं हटाया गया. इस ऐतिहासिक चर्च को बचाने की मुहीम में आर बालाशंकर का अहम योगदान है.

आर बालाशंकर लड़ सकते हैं चुनाव

आर बालाशंकर को लेकर बातें सामने आ रही हैं कि वह केरल के चेंगन्नूर से चुनाव लड़ेंगे. जबकि यह सीट CPI(M) के पास है. ऑर्थोडॉक्स चर्च पर अच्छा प्रभाव पड़ा है. इस वजह से चर्च का खुलकर समर्थन में आना मायने रखता है. यहां तक चर्च ने यह कह दिया है कि LDF_UDF ने चर्च को बचाने की मुहीम से खुद को दूर रखा. वह तो भला हो आर बालाशंकर का, जिन्होंने एक चर्च के सदस्य की तरह साथ दिया.

बता दें, केरल में ईसाई समुदाय का समर्थन मिलना बहुत बड़ी बात होती है, क्योंकि यहां पर 19 से 20 प्रतिशत आबादी ईसाईयों की है. ऑर्थोडॉक्स चर्च की काफी मान्यता है. यह चर्च 20वीं सदी की शुरूआत से अस्तित्व में है. इसे लेकर लोगों में काफी आस्था है. ऐसे में बीजेपी प्रत्याशी का समर्थन करने की अपील और पीएम मोदी का नाम लेना आने चुनाव के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित हो सकता है.

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी ने जिस वैक्सीन का डोज लिया, वह कोरोना वायरस से लड़ने में 81% असरदार साबित हुई

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles