Wednesday, August 4, 2021

एक शख्स ने सोमनाथ मंदिर पर वीडियो बनाकर किया इस्लामी आक्रांता महमूद गजनवी का गुणगान

अहमदाबाद। एक शख्स ने गुजरात के सोमनाथ मंदिर पर एक वीडियो बनाया. जिसमें उसने मंदिर को ध्वस्त कर उसे लूटने वाले इस्लामी आक्रांता महमूद गजनवी का महिमामंडन किया. उसने यह वीडियो सोमनाथ मंदिर से कुछ ही दूर पर स्थित एक बीच पर बनाया. जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो के सामने आने से बाद लोगों ने गुजरात पुलिस को आगाह किया कि ये हमारे मंदिरों को ध्वस्त करने की धमकी भी हो सकती है.

- Advertisement -

इस शख्स का नाम इरशाद रशीद है. वह एक मौलाना हैं. इनका जमाते आदिल हिंद के नाम से एक यूट्यूब चैनल है. जो 2016 से एक्टिव है. बताया जा रहा है इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलने और सांप्रदायिक द्वेष भड़काने के लिए किया जा रहा है.

youtube channel
सोर्स: सोशल मीडिया

इस वायरल वीडियो में शख्स ने बिस्लमिल्लाह ए रहमान ए रहीम से शुरुआत की. उसने बताया कि वह गुजरात के सोमनाथ मंदिर के पास आया हुआ है. जिस पर कभी महमूद गजनवी और मोहम्मद इब्ने काजिम ने अपना झंडा फहराया था.

इसके बाद उसने कैमरे को मंदिर की तरफ घुमाया और कहा, यह वही दरिया है जहां से मोहम्मद इब्ने काजिम की फौज आई थी. ये दरिया पाकिस्तान से भी जुड़ता है. ये सोमनाथ का मंदिर है जिसे महमूद गजनवी ने ध्वस्त किया था. उसका इतिहास आप पढ़ते हैं. मुस्लिमों का इतिहास काफी उज्जवल रहा है. हमें किसी के सामने दबने और झुकने की जरूरत नहीं है. हमारे पूर्वजों ने बड़े-बड़े कारनामे किए थे. हमें उन्हें पढ़ना चाहिए और दूसरों को भी पढ़ाना चाहिए.

वीडियो में रशीद ने मुस्लिमों को सलाह दी और कहा, हमारे कारनामे रोशन बाग में लिखे हुए हैं. इन्हें आने वाली नस्लों को पढ़ने की जरूरत है. उन्हें पता चलना चाहिए कि कैसे महमूद गजनवी ने हिंदुस्तान को फतह किया था. मौलाना ने आगे कहा कि भले आज इतिहास में उन्हें चोर-डाकू कहा जाता हो, लेकिन असल इतिहास में उन्हें दीन और इस्लाम का सच्चा प्रचारक बताया जाता है.

इसके अलावा उसने एक शेर पढ़ा. जिसमें उसने कहा, दूर बैठा कोई तो दुआएं देता है. मैं डूबता भी हूं. तो समंदर उछाल देता है. अंत में उसने सोमनाथ मंदिर की तरफ इशारा करते हुआ कहा कि ये मंदिर यहां से आधा किलोमीटर दूर है और फिर वह मंदिर की तरफ चला गया.

हालांकि, वीडियो वायरल होने के बाद गुजरात पुलिस हरकत में आ गई है. पुलिस ने FIR दर्ज कर मौलाना को पकड़ने की कोशिशें तेज कर दी हैं. बता दें, इसे लेकर लोगों में काफी गुस्सा है. उन्होंने कट्टरपंथी इस्लामवादी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है.

 

रशीद ने मांगी माफी

लोगों के रोष के बाद, रशीद ने अपने चैनल पर एक वीडियो अपलोड किया है. जिसमें उसने वायरल वीडियो के लिए माफी मांगी है. मौलाना का दावा है कि यह वीडियो उसने 4 मई 2019 को रिकॉर्ड किया था. जब वह सोमनाथ मंदिर गया था. इसको शूट करने का उद्देश्य मंदिर की प्रशंसा करना था. रशीद का आरोप है कि सोशल मीडिया पर उनके वीडियो गलत ढंग से दिखाया गया है.

 

यह भी पढ़ें- मुस्लिम बच्चे की पिटाई पर मंदिर के पंडित ने कहा- वह यहां सिर्फ पानी पीने नहीं आया था

 

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles