Saturday, October 16, 2021

गजब का जुगाड़: पेट्रोल के बढ़ते दामों के कारण बाइक से इंजन हटाकर बैट्री लगवा रहे लोग

न्यूज़ डेस्क। अगर जुगाड़ की बात की जाए तो भारत का नाम सबसे पहले आएगा, क्योंकि यहां पर लोग बहुत जुगाड़ु हैं. वह अपनी जरूरत के हिसाब से कोई न कोई जुगाड़ निकाल लेते हैं. इन दिनों लोग अपनी बाइकों के साथ ऐसा कर रहे हैं. दरअसल, पेट्रोल की कीमत दिन पर दिन बढ़ रही है. लोगों ने इस खर्चे से छुटकारा पाने के लिए जुगाड़ ढूंढ लिया है. अब लोग अपनी बाइक में पेट्रोल का झंझट ही खत्म कर दे रहे हैं और पेट्रोल इंजन को हटवा कर इलेक्ट्रिक इंजन लगवा रहे हैं.

- Advertisement -

हां, सही में कई लोगों ने अपनी गाड़ी के पेट्रोल इंजन को बैटरी इंजन में कन्वर्ट कराया है. यानी अब उन्हें पेट्रोल की जगह चार्ज करना होगा. जिसके बाद वह गाड़ी को बिजली से चला सकेंगे, जो पेट्रोल इंजन से काफी सस्ता पड़ता है. चलिए जानते हैं कि यह किस तरह कंवर्ट होता है. इसमें कितना खर्चा आता है और ऐसा करने से आपको कितना  फायदा होता है, लेकिन आपको बता दें, ऐसा करना गैर-कानूनी है और इसके लिए आपको जेल हो सकती है.

कितना खर्च होता है

कई लोग सोशल मीडिया पर प्रचार कर रहे हैं कि वे पेट्रोल इंजन को बैटरी इंजन में तब्दील कर देंगे. कहा जा रहा है कि इसमें करीब 10 हजार रुपए का खर्चा आता है और बैट्री के हिसाब से चार्ज भी बदल जाते हैं. गाड़ी की स्पीड को लेकर मैकेनिक का दावा है कि इससे बाइक की 65-70 किलोमीटर प्रति घंटा तक स्पीड आती है.

कैसे किया जाता है कंवर्ट

बताया जा रहा है इंजन बदलते ही गियर बॉक्स को निकाल दिया जाता है. फिर इसके बाद बाइक का कंट्रोल सीधे एक्सिलेटर से कर दिया जाता है. ऐसे में आपकी बाइक स्कूटी की तरह काम करेगी. हालांकि, इस तरह से गाड़ी का इंजन नहीं बदला जाता है. इसके लिए कई बदलाव किए जाते हैं. कहा जा रहा है इसमें बहुत खर्च आता है.

क्या होगा फायदा

दावा किया जा रहा है बैट्री को दो घंटे तक चार्ज करने पर आप 40 किलोमीटर तक जा सकते हैं. वहीं, अगर बैट्री फुल चार्ज हो तो आप 300 किलोमीटर तक का सफर कर सकते हैं. इसके अलावा यह आपकी बैट्री पर निर्भर करता है.

गैर-कानूनी है ऐसा करना

अगर आप ऐसा करने जा रहे हैं, तो इससे पहले यह जान लें कि यह गैर -कानूनी है. मोटर व्हीकल एक्ट 1988 के सेक्शन 52 के मुताबिक, किसी भी गाड़ी में एटरनेशन कराना या करना अपराध है. इस नियम के तहत कोई भी व्यक्ति किसी कंपनी की बाइक या कार में किसी भी तरह का परिवर्तन नहीं कर सकता है. अगर कोई ऐसा करता है तो उसे जुर्माना देना पड़ेगा. वहीं, इससे आपका इंश्योरेंस खत्म हो सकता है.

यह भी पढ़ें- कोविड सर्टिफिकेट में पीएम मोदी की तस्वीर पर बवाल, विपक्ष ने कहा बीजेपी का सेल्फ प्रमोशन

 

 

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles