Thursday, August 5, 2021

क्या है माजरा: लोग कह रहे पोर्न देखने वालों को यूपी पुलिस मैसेज भेज रही है, लेकिन पुलिस ने कहा- कि हमने तो कुछ नहीं भेजा

यूपी। उत्तर प्रदेश पुलिस ने हाल ही में एक अभियान चालू किया है. जिसको लेकर प्रदेश में काफी हंगामा मचा हुआ है. मामला ऐसा है, किसी ने कहा कौवा कान ले गया और लोग कौवे के पीछे भागने लगे. बता दें, यूपी सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक अभियान चालू किया है. सभी इंतेजामों के साथ-साथ चाइल्ड पॉर्नोग्राफी को लेकर लोगों को जागरुक करने का अभियान भी चलाया है.

- Advertisement -

फिर इसके बाद से लोग कहने लगे कि जो भी पोर्न देखेगा उसे योगी सरकार की पुलिस उठा ले जाएगी. किसी ने बोला मेरे परिचित के पास मैसेज आया है, तो किसी ने कहा फलाने के पास ई-मेल आया है. जितने लोग उतनी तरह की बातें बनीं, लेकिन सच्चाई कुछ और ही है, चलिए जानते हैं असलियत को….

अभियान के बारे में तस्दीक से जानें

1090 की तरफ से 12 फरवरी को एक डिजिटल आउटरीच प्रोग्राम हमारी सुरक्षा का शुभारंभ किया गया. 1090 यूपी पुलिस का हेल्पलाइन नंबर है, जो महिला सुरक्षा और साइबर क्राइम से संबंधित है. इस पर साइबर क्राइम को लेकर भी शिकायत की जा सकती है. इसके अलावा अगर किसी महिला को परेशानी है तो इस हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके मदद मांग सकती है. यूपी पुलिस ने 12 फरवरी को होने वाले प्रोग्राम में महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा को लेकर एक रोड मैप साझा किया.

उन्होंने बताया कि कैसे 1090 प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करके लोगों को जागरुक किया जाए और महिलाओं व बच्चों को सुरक्षित किया जाए. यूपी पुलिस ने तय किया कि वुमेन पॉवर हेल्पलाइन 1090, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और साइकोग्राफिक्स जैसी टेक्नोलॉजी के जरिए इंटरनेट पर चाइल्ड पॉर्नोग्राफी सर्च करने वाले लोगों को पॉप अप मेसेज भेज कर उनका शुद्धिकरण किया जाएगा. इस पॉप अप मैसेज को याद रखिए, सारा फसाद इसके पीछे ही हुआ है.

फर्जी मैसेज से रहे सावधान!

जैसे ही यह न्यूज आई तो कुछ शरारती तत्वों ने पुलिस के पॉप अप मैसेज की भाषा को अपने हिसाब से बदल लिया और 1090 के मैसेज को गलत तरीके से सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल कर दिया. एक मैसेज में लिखा था कि अगर कोई अपने कंप्यूटर और मोबाइल पर पोर्न को सर्च करेगा, तो उसे पुलिस की तरफ से चेतावनी मिलेगी. चेतावनी मिलने के बाद अगर नहीं माने तो पुलिस कार्रवाई करेगी. इसको लेकर लोग सोशल मीडिया पर लिखने लगे. एक यूजर ने लिखा, यूपी में अगर किसी ने पॉर्न को सर्च किया, तो उसे पुलिस कि तरफ से चेतावनी मिलेगी.

क्या है असली बात

यूपी पुलिस 1090 का पूरा अभियान चाइल्ड पॉर्नोग्राफी को लेकर है. इस अभियान में किसी तरह के फोन या मैसेज भेजने की बात नहीं कही गई है, सिर्फ पॉप अप मैसेज आएगा. यह पॉप मैसेज वेबसाइट पर सर्च करने के दौरान आते हैं, आपने कई वेबसाइट पर साइड से निकलते ऊपर-नीचे होते मैसेज को देखा होगा. इन मैसेज को ही पॉप अप मैसेज कहते हैं. देखिए, पुलिस का बस इतना कहना है कि अगर कोई चाइल्ड पॉर्न को सर्च करेगा तो उसको पॉप अप मैसेज भेजकर बताया जाएगा कि ऐसा करना गैर-कानूनी है और इसको देखने से क्या नुकसान होता है. बता दें, आईटी एक्ट के अनुसार चाइल्ड पॉर्न को देखना और उसे सर्च करना गैर कानूनी है.

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles