Thursday, August 5, 2021

हिपोक्रेसी: पाक ने 5133 बार सीजफायर का उल्लंघन किया और शांति बनाने की जिम्मेदारी भारत की!

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच गुरुवार को एलओसी पर संघर्ष विराम की सहमति बनी है. इसके लिए दोनों देशों की सेनाओं के डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिटरी ऑपरेशन के बीच बातचीक हुई. संघर्ष विराम की सहमति के बनने के बाद पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की प्रतिक्रिया सामने आई है. इमरान खान ने शनिवार को कहा, आगे की बातचीत के लिए अनुकूल परिस्थिति बनाने के जिम्मेदारी भारत की है.

- Advertisement -

इनता ही नहीं पाकिस्तान ने खुद को शांतिदूत और बातचीत का समर्थक बताया है और कश्मीर को लेकर वही पुराना राग अलापा. इसके साथ बालाकोट स्ट्राइक के बाद पूरी दुनिया में इज्जत की धज्जियां उड़ने के बावजूद इमरान ने अपनी सेना की तरीफ कर गाल बजाए.

भारतीय सेना के द्वारा बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद को खत्म करने के लिए हुई एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की जवाबी एयर स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ पर इमरान खान ने कई सारे ट्वीट किए, जिसमें उन्होंने लिखा, भारत कश्मीर के लोगों की मांग और उनके अधिकारों के लिए उचित कदम उठाए और उन्हें आत्मनिर्णय लेने का अधिकार दिया जाए. इसके अलावा जम्मू-कश्मीर के मामले में भारत UNSC के प्रस्तावों के मुताबिक कदम उठाए.

इमरान ने आगे लिखा, पाकिस्तान पर भारत के अवैध सैन्य हवाई हमले के दो साल होने पर मैं पूरे देश और अपनी आर्मी को बधाई देता हूं. एक गर्वित और आत्मविश्वासी देश के तौर पर हमने समय के हिसाब से और दृढ़ता से प्रतिक्रिया दी. भारतीय सेना के कैद किए गए जवान को वापस करके भारत के गैर-जिम्मेदाराना रवैया के सामने हमने दुनिया को पाकिस्तान का जिम्मेदार रवैया दिखाया है.

यह भी पढ़ें- आंध्र प्रदेश में गधे गायब होने की कगार पर, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

खान ने लिखा, मैं LOC पर सीजफायर की बहाली को लेकर सहमति का स्वागत करता हूंं, आगे की बातचीत के लिए अनुकूल माहौल बनाने की जिम्मेदारी भारत की है. बता दें, 24-25 फरवरी की मध्यरात्रि को भारत और पाकिस्तान के बीच LOC पर एवं अन्य क्षेत्रों पर सीजफायर का सख्ती से पालन करने की सहमति बनी है.

कश्मीर को लेकर भारत का रुख नहीं बदला है

सहमति बनने के बाद इमरान खान की पहली प्रतिक्रिया है. भारत सरकार पहले से कह रही है कि भारत, पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसियों जैसे रिश्ते चाहता है और शांतिपूर्ण तरीके से सभी मुद्दों को सुलझाना चाहता है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव का कहना है कि महत्वपूर्ण पहलुओं पर भारत का रुख पहले जैसा है. मुझे इसे दोहराने की जरूरत नहीं है.

पाक ने कितनी बार किया सीजफायर का उल्लंघन

सीजफायर पर बनी सहमति को लेकर पाकिस्तान खुद को शांतिदूत बता रहा है, लेकिन भारत ने जितनी बार शांति बहाली की कोशिश की है, पाकिस्तान ने उतनी बार भारत के पीठ पर खंजर मारा है. बता दें, कि पाकिस्तान ने 2018 में 2140 , 2019 में 3479 और 2020 में 5133 और 2021 में 25 फरवरी तक 591 बार सीजफायर का उल्लघन किया है.

 

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles