Saturday, October 16, 2021

POK के टीचर ने दी इमरान सरकार को धमकी, कहा- वेतन बढ़ाओ नहीं तो चुनाव भूल जाओ

एजेंसी,मुजफ्फराबाद। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के मुजफ्फराबाद शहर में सैकड़ों शिक्षक वेतन वृद्धि को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने चुनाव कार्य सहित सरकार के सभी कर्तव्यों को बहिष्कार करने की धमकी दी है।

- Advertisement -

एक प्रदर्शनकारी ने कहा, यह हमारा प्राथमिक अधिकार है। हम चाहते हैं कि वेतन को बढ़ाया जाए। अगर सैलरी को नहीं बढ़ाया गया तो स्कूल बंद रहेंगे। हम किंग मेकर के साथ-साथ शासनों को खत्म कर सकते हैं। यदि आप हमारी मांगो को नहीं सुनेंगे तो आपको बहुत परेशानी होगी। आप अपने आम चुनाव को भूल जाएंगे।

इमरान सरकार को दुष्परिणामों की धमकी देते हुए एक प्रदर्शनकारी ने कहा, हम न केवल स्कूल बंद करेंगे बल्कि सड़को को जाम कर देंगे। सरकार के लिए स्थिति पैदा कर देंगे कि वह इससे दूर नहीं भाग पाएंगे। हम सरकार के सभी कर्तव्यों का बहिष्कार करेंगे, जिनमें शिक्षण, ब्लॉक कार्य, चुनाव कार्य और बार्ड कार्य शामिल हैं।

यह भी पढ़ें- ऑस्ट्रेलिया में समाचार पेजों पर लगाए प्रतिबंध को हटाएगा फेसबुक, स्कॉट मॉरिशन ने दी थी ये चेतावनी

वहीं, एक दूसरे प्रदर्शनकारी ने कहा कि जब सरकार हमारी मांग पूरी नहीं करेगी तब हम कर्तव्यों का पालन नहीं करेंगे। हमारी मांग गैर-कानूनी नहीं है। प्रदर्शनकारी वेतन बढ़ाने के नारे लगा रहे थे। इस दौरान भारी संख्या में तैनात पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया और प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए वॉटर कैनन और आंसू गैस के गोले का इस्तेमाल किया।

पिछले महीने कई शिक्षक अपने विभाग के नियमितीकरण नीति के विरोध में इमरान खान के बेनिगाल में स्थित आवास के पास विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस ने उनको हटाने के लिए पुलिस बल का प्रयोग किया था।

इस नई नीति के विरोध में पंजाब के 700 से अधिक शिक्षक इस्लामाबाद पहुंचे थे और खान के घर पर मार्च करने का फैसला लिया था। इस नीति के तहत केवल उन शिक्षकों को नियमित किया जाता, जो लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास करते और इंटरव्यू क्लियर करते। प्रदर्शनकारियों ने इस नई नीति को अन्यायपूर्ण के रुप में देखा, क्योंकि वे कई साल से अनुबंध पर अपने विभाग में काम कर रहे हैं।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles