Thursday, August 5, 2021

क्या मोबाइल पर आने वाले OTP उतने सेफ हैं जितना हम समझते हैं?

न्यूज डेस्क। मोबाइल और इंटरनेट ने हमारी जिंदगी को काफी आसान बना दिया है. लेकिन साथ में हैकर्स ने इसे उतना ही मुश्किल बना दिया है. रोज हजारों लोग ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार होते हैं. जैसे ही हमें लगता है कि अब हम सुरक्षित हैं. वैसे ही एक नई समस्या सामने आ जाती है.

- Advertisement -

दरअसल, हाल ही में एक नए साइबर हमले का पता चला है. इसमें हैकर्स मोबाइल पर आने वाले मैसेज को अपने सिस्टम पर रीडायरेक्ट कर सकते हैं. ऐसे में हैकर टेक्सट मैसेजिंग मैनेजमेंट सर्विस का पूरी तरह से इस्तेमाल कर सकता है. इस हमले के समय ये लोग आपके मोबाइल पर आए OTP और लॉग इन को चुरा लेते हैं.

1190 रुपए में डेटा खरीद रहे हैकर्स

मदरबोर्ड के रिपोर्टर जोसेफ कॉक्स ने सबसे पहले इसके बारे में पता लगाया था. उनकी रिपोर्ट के अनुसार, हैकर आसानी से आपके मोबाइल पर आने वाले OTP या मैसेज को अपने सिस्टम में रीडायरेक्ट कर सकता है. इसके लिए उसे सिर्फ $16 यानी करीब 1,190 रुपए खर्च करने होते हैं. यह मामूली सा शुल्क कारोबारियों से SMS रीडायरेक्ट कराने के लिए लिया जाता है. यह हैकर्स के लिए नहीं होता है. आपको बता दें कि ऐसे मामले अमेरिका में सामने आए हैं. जहां पर हैकर्स इस तरह के हथकंडे अपना रहे हैं.

इस वजह से भारत में OTP आ रहे देरी से

भारत में भी SMS में OTP देर से आने के मामले सामने आ रहे हैं. यह समस्या सिर्फ बैंक, ई-कॉमर्स या अन्य कंपनियों की सर्विस लेते समय नहीं आ रही है बल्कि डेबिट कार्ड ट्रांजेक्शन और अन्य ऐसी सर्विस का इस्तेमाल करने में आ रही है जिनमें डबल ऑथेंटिकेशन की जरूरत पड़ती है.

इस समस्या के पीछे का असली कारण TRAI (Telecom Regulatory Authority of India) ओर से जारी की गई नई गाइडलाइंस है. TRAI ने OTP फ्रॉड से बचने के लिए SMS का एक नया टेंपलेट जारी किया है. जिसकी असर OTP सर्विस पर दिख रहा है और देशभर के हजारों उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

यह भी पढ़ें- अब हर किसी की फोटो होगी DSLR वाली, Google Photos ऐप ने किए ये अहम बदलाव

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

135FansLike

Latest Articles